Home देश बॉर्डर पर नेपाल पुलिस की अंधाधुंध फायरिंग, 4 भारतीयों को लगी गोली,...

बॉर्डर पर नेपाल पुलिस की अंधाधुंध फायरिंग, 4 भारतीयों को लगी गोली, 1 की मौत

नेपाल पुलिस ने एक भारतीय को लिया कब्जे में,

दैनिक सृजन न्यूज नेटवर्क

घटना सीतामढ़ी( बिहार )के सोनबरसा बॉर्डर इलाके के जानकीनगर गांव की है. भारत-नेपाल सीमा पर विवाद हुआ था, जिसके बाद नेपाल पुलिस की ओर से अंधाधुंध फायरिंग की गई जिसमें 4लोग घायल हो गए तथा एक भारतिय की मौत हो गई।प्राप्त सूचना के अनुसार सीतामढ़ी जिला अंतर्गत सोनबरसा थाना क्षेत्र की पिपरा परसाइन पंचायत के लालबंदी जानकी नगर बार्डर पर खेत में काम रहे लोगों पर नेपाल की सशस्त्र पुलिस ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी। जिसमे जानकी नगर टोले लालबंदी निवासी नागेश्वर राय के 25 वर्षीय पुत्र विकेश कुमार की मौत हो गई। जबकि, विनोद राम के पुत्र उमेश राम को दाहिने बांह में तथा सहोरबा निवासी बिंदेश्वर ठाकुर के पुत्र उदय ठाकुर को दायें जांघ में गोली लगी है।
नेपाली पुलिस ने गांव के वशिष्ठ राय के पुत्र लगन राय को अपने कब्जे में ले रखा है। वशिष्ठ भी गोली का शिकार हुआ है या नहीं, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। घायलाें को इलाज के लिए सीतामढ़ी रेफर किया गया है। फिलहाल बॉडर पर दोनों देश की पुलिस तैनात है। हालत तनावपूर्ण बनी हुई है। घटना नारायणपुर-लालबन्दी बॉडर की है। मृतक के पिता नागेश्वर राय ने बताया कि हमारी जमीन नेपाल में नारायणपुर में स्थित है। उसी जमीन पर खेत में मेरा पुत्र काम कर रहा था। अचानक नेपाली पुलिसबता ने फायरिंग शुरू कर दी। बता दें कि भारत और नेपाल के बीच सीमा को लेकर विवाद चल रहा है. नेपाली संसद ने इसको लेकर एक प्रस्‍ताव भी पारित किया है, जिसमें भारत के कई सीमावर्ती हिस्‍सों को नेपाल का बताया गया है. इसको लेकर दोनों देशों के बीच तनाव है.

नेपाल के नए नक्शे ने बिगाड़े संबंध

आपको बता दें, नेपाली संसद ने अपने नए नक्शे में भारत के कई सीमावर्ती के 395 वर्गकिलोमीटर हिस्से को नेपाल का बताया है इसके बाद से ही देशों के संबंध बिगड़ गए हैं. इन इलाकों में लिम्पियाधुरा, लिपुलेख, कालापानी, गुंजी, नाभी और काटी गांव शामिल हैं. नेपाल की तरफ से उठाए गए इस कदम के पर भारत की तरफ से कड़ी निंदा की गई है. इस मुद्दे पर देशों के बीच बातचीत कब होगी इस बारे में कहना मुश्किल है. वहीं नेपाली संसद ने नए नक्शे को मंजूरी दे दी है. नेपाल ने कोरोना काल में भारत को एक बड़ा झटका दिया है क्योंकि, इस समय भारत सरकार कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रही है और ऐसे हालातों में नेपाल द्वारा उठाया गया कदम वाकई निंदनीय है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

जिलाधिकारी द्वारा की गई नीति आयोग की कार्य योजना की समीक्षा

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क चंदौली ब्यूरो। जिलाधिकारी संजीव सिंह द्वारा नीति आयोग की कार्ययोजना की समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में नीति आयोग भारत सरकार के...

शिक्षक 16 जनवरी को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालयों पर देंगे धरना

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क चंदौली ब्यूरो।  शिक्षक संघ के केंद्रीय नेतृत्व के आह्वान पर प्रदेश भर के शिक्षक शनिवार के दिन 16 जनवरी को...

सड़क के किनारे नाली निर्माण के खुदाई से राहगीरों को करना पड़ रहा परेशानी का सामना

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क सैदूपुर,चंदौली। सैदूपुर से लेहरा मार्ग पर नाली निर्माण के लिए लगभग महिनों पुर्व खुदाई कर के छोड़ दिया गया है,...

नई दिल्ली द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय मगही चौपाल-१६ सम्पन

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क नई दिल्ली । विश्व मगही परिषद् अंतरराष्ट्रीय मगही चौपाल-१६,विश्व मगही परिषद् नई दिल्ली के तरफ से सोलहवां वेबिनार जेकरा...

ढाई दर्जन कवियों ने कोविड के बाद एक साथ अपनी रचनाओं से उकेरा

डाॅ एस के सिंह दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क लखनऊ।कबि स्मृति शेष  चंद शेखर सिंह जी की स्मृति में राष्ट्रीय कवि संगम लखनऊ एवं अवध...