हरियाणा, करनाल : दिनांक 21.05.2019 को सेक्टर-9 करनाल मे व्यापारी के घर में नौकर व अन्य तीन साथियों के साथ मिलकर लूट की वारदात सामने आई थी। इस सम्बन्ध में मामला दर्ज कर जांच की जिम्मेवारी सी.आई.ए-1 को सौपी गई।

जैसा कि आप सभी को विधित हैं कि सी.आई.ए-1 द्वारा दिनांक 03.06.2019 को मंगलौरा चौकी के पास से दो आरोपियों को गुप्त सुचना के आधार पर काबू किया गया था। व आरोपीगण से दौराने पुछताछ आरोपियों के कब्जे से मौके पर एक देशी पिस्तौल 315 बौर, तीन जिंदा रौंद, एक कार आई-20 बरामद हुई।

पुलिस पूछताछ पर आरोपियों ने अपने किराये के कमरे गिजोर से.-53 नोएडा से एक मोबाईल फोन सैमसंग, 06,00,000 लाख रुपये कैश और करीब 50,00,000 लाख रुपये की किमत के सोने, चांदी व हीरों के जेवर व सामान बरामद किये जा चुके हैं। लेकिन उनके दो साथी की गिरफ्तारी नहीं की जा सकी थी जिनकी तलाश जारी रखी गई।

सी.आई.ए-1 की टीम द्वारा मुखबरी के आधार पर दिनांक 14.06.2019 को बाकी दोनो आरोपी 1. सुरेन्द्र उर्फ पवन पुत्र हरी चंद वासी गोदरी जिला मुधबनी बिहार, 2. रंजीत पुत्र चन्द्रशेखर वासी बैलही जिला मधुबनी बिहार को कुण्डली बार्डर जिला सोनीपत से काबू किया गया।

पुछताछ पर मुख्य आरोपी सुरेन्द्र उर्फ पवन ने बताया कि हमारा टारगेट गाजियाबाद में बहुत बड़े व्यापारी के घर पर लूट की योजना थी मगर उनके घर में नौकरी नहीं मिली जिस कारण हम वहा कामयाब नहीं हुए।

दिल्ली की एक एजेन्सी के माध्यम से फर्जी आई.डी देकर उपरोक्त सेक्टर-9 में कुक की नौकरी मिली करीब 5 दिन तक मैंने घर की सभी कमरे व अलमारियों की रैंकी कर अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर उपरोक्त वारदात को अंजाम दिया।

आरोपीगण दिनांक 15.06.2019 को पे अदालत किया जाकार दिनांक 18.06.2019 तक रिमाण्ड हासिल किया गया। दौराने रिमाण्ड आरोपीगण से आनन्द विहार दिल्ली से किराये के मकान से लूटी गई धन राशि व आभूषण बरामद किये गये।

बरामदगी:- आरोपीगण से 1 किलो 185 ग्राम सोने के आभूषण, दो किलो चांदी के आभूषण, एक मोबाईल फोन व 5 लाख रुपये नगद बरामद किये गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here