नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस, संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन के लिए गुरूवार को रवाना होने से पहले बताया कि उनकी इस यात्रा से भारत के सदाबहार मित्रों के साथ संबंध और मजबूत होंगे तथा आपसी सहयोग के नये क्षेत्र भी तलाशे जाएंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 अगस्त से 26 अगस्त तक तीन देशों की यात्रा पर हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22-23 अगस्त को फ्रांस में द्विपक्षीय चर्चा करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बातचीत करेंगे और प्रधानमंत्री एडवर्ड फिलिप से भी मिलेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी इस यात्रा के दौरान वहाँ भारतीय समुदाय के लोगों से भी बातचीत करेंगे। वहाँ विमान हादसे में मारे गये पीड़ितों की याद में बनाए गये एक स्मारक स्थल का उद्घाटन भी करेंगे। इसके बाद मोदी 25-26 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मैक्रों के आमंत्रण पर जी-7 शिखर सम्मेलन में साझेदार देश के रूप में भाग लेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वहाँ पर्यावरण, जलवायु, समुद्र और डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन सत्रों में भाग लेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि महात्मा गांधी कि 150वीं जयंती मनाने के लिए शहजादे के साथ संयुक्त रूप से जीकट जारी करने के लिए भी उत्सुक हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस यात्रा में संयुक्त अरब अमीरात सरकार द्वारा उन्हें दिया जाने वाला सर्वोच्च नागरिक सम्मान ऑर्डर ऑफ जायद पाना उनके लिए गौरव कि बात होगी। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24-25 अगस्त को बहरीन में होंगे। यह भारत के प्रधानमंत्री के रूप में पहली बहरीन यात्रा होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस दौरान बहरीन के शाह शेख हमाद बिन ईसा अल खलीफा और अन्य नेताओं से भी मुलाक़ात करेंगे। इस बीच जन्माष्टमी पर्व के संदर्भ में खाड़ी क्षेत्र के सबसे पुराने श्रीनाथजी मंदिर के पुनर्विकास की औपचारिक शुरूआत के दौरान उपस्थित रहने का सौभाग्य प्राप्त होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here