लखनऊ : जयपुर के आईटीआई और बीटेक के छात्रों ने अमेजन कंपनी को करोड़ों रुपये का चूना लगाया। दोनों शातिर छात्र कंपनी को लगभग तीन वर्षों से ऑनलाइन आर्डर कर ठगी कर रहे थे। गौतमपल्‍ली लखनऊ की साइबर टीम ने दोनों शातिर अपराधियों को धर दबोचा।

उनके पास से लाखों रुपयों के कीमती सामान और कंपनी के फॉल्‍स स्‍टीकर भी बरामद हुए। झोटवाड़ा जयपुर का रहने वाला बीटेक कर छात्र सोहित 24 और सीकर हरमाड़ा का रहने वाला आईटीआई का छात्र राहुल सिंह राठौर 26 को गौतमपल्‍ली साइबर टीम ने धर दबौचा।

जय सोनी मैनेजर अमेजन और शशांक सिंह ने गौतम पल्‍ली पुलिस को धोखाखड़ी की सूचना दी थी। जिसके बाद गौतमपल्‍ली अधीक्षक की अगुवाई में साइबर सेल की मदद से दोनों को पकड़ लिया। इनके पास से प्रोटीन पाउडर, कीमती घडि़यां और एप्‍पल कंपनी की स्‍मार्ट वाच कब्‍जे में ली हैं।

ऐसे करते थे ठगी:- दोनों छात्र अमेजन कंपनी की वेबसाइट पर जाकर फर्जी एकाउंट बनाते थे। जिसके बाद इनका प्रयोग कर ये वे प्रोटीन, एप्‍पल कंपनी की स्‍मार्ट वॉच, डिजीटल गिफ्ट कार्ड व अन्‍य महंगे सामान का आर्डर देते थे।

जिसके बाद ऑनलाइन आर्डर कैंसिल कर देते थे। सामान वापसी में वो घटिया सामान और पत्‍थर भरकर नकली स्‍टीकर और पैकिंग करके सामान वापस कर देते थे। ऐसे करके उनके फजी एकाउंट में पैसे वापस आ जो थे।

20 करोड़ रुपयों की हुई धोखाधड़ी:- ये छात्र जयपुर, राजस्‍थान, दिल्‍ली, महाराष्‍ट्र, पंजाब, बिहार, उत्‍तर प्रदेश, छत्‍तीसगढ़, एवं अन्‍य राज्‍यों में जाकर ठगी कर चुके थे। लगभग तीन सालों से ये ठगी कर रहे थे।

लखनऊ में किराये पर रहते थे:- राहुल ने बताया कि वो समर विहार कालोनी आलमबाग में किराये का मकान लेकर रह रहे थे। जिसके बाद करोड़ों की बुकिंग करके निकल जाते थे।

बरामद हुआ माल:- छात्रों के पास से प्रोटीन आईसोपोर कंपनी के डिब्‍बे, प्रोटीन गोल्‍ड कंपनी के पैकेट, अलग अलग कंपनी के मोबाइल, कंपनी के स्‍टीकर, एप्‍पल एयरपोड के फाल्‍स स्‍टीकर, वोडाफोन और आइडिया कंपनी के सिम बरामद हुए।

गिरफ्तार करने वाली साइबर क्राइम टीम:- दोनों जालसाजों को पकड़ने वाली साइबर क्राइम टीम में राहुल सिंह राठौर  सेल प्रभारी, पवन कुमार गुप्‍ता, अखिलेश कुमार सिंह, शरीफ खान, अजय प्रताप सिंह साइबर क्राइम सेल शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here