नई दिल्‍ली : निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए मेरठ जेल से पवन जल्लाद गुरुवार को तिहाड़ जेल पहुंच चुके हैं। वहीं विशेष न्यायाधीश ए. के. जैन ने तिहाड़ जेल के अधीक्षक को शुक्रवार को सुबह 10 बजे तक एक दोषी विनय की याचिका पर जवाब दाखिल करने को कहा।

फांसी की सजा का सामना कर रहे दोषी विनय कुमार शर्मा की ओर से पेश वकील ए पी सिंह ने अदालत से फांसी को अनिश्चितकाल के लिए टाल देने को कहा क्योंकि कुछ दोषियों के कानूनी उपचार अभी बाकी हैं। अभियोजन पक्ष ने कहा कि याचिका न्याय का मजाक हैं और यह फांसी को टालने की महज एक तरकीब हैं।

तिहाड़ पुलिस की टीम ही पवन को कड़ी सुरक्षा में मेरठ से लेकर आई हैं। वहीं तिहाड़ जेल से मिली जानकारी के अनुसार कल पवन को तिहाड़ जेल में फांसी की रिहर्सल कराई जाएगी। साथ ही यह भी तय किया जाएगा कि पवन फांसी देगा या उसे रिजर्व में रखा जाएगा।

मेरठ के कांशीराम आवासीय योजना में रहने वाले पवन जल्लाद को निर्भया के गुनहगारों को फांसी देने के लिए तैयार हैं। उन्हें फांसी देने के लिए एक फरवरी की तिथि निश्चित की गई हैं। बता दें कि बुधवार की शाम पवन को वरिष्ठ जेल अधीक्षक बीडी पांडेय ने जेल में बुलाया था।

बीडी पांडेय का कहना हैं कि पुराने आदेश के मुताबिक, पवन जल्लाद 30 जनवरी को तिहाड़ जेल में जाना हैं। यदि फांसी की तारीख आगे नहीं बढ़ी तो पवन को गुरुवार को पुलिस तिहाड़ जेल के लिए रवाना कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here