चंदौली :जिले में बिहार सीमा से सटे ककरैत, नौबतपुर, धरौली, वाराणसी सीमा पर पड़ाव, हाईवे पर रामनगर औद्योगिक क्षेत्र के समीप, कटरियां, नौगढ़ में मझगांवा, मीरजापुर की सीमा पर शिकारगंज, कंचनपुर मार्ग, नंदपुर चौकी, बलुआघाट और गाजीपुर की सीमा पर सैदपुर घाट समेत कुल 13 स्थानों पर चेक पोस्ट बनाए गए हैं। चेक पोस्ट पर मजिस्ट्रेट के साथ एक चिकित्सक और एक फार्मासिस्ट को तैनात किया गया है। आठ-आठ घंटे के लिए तीन शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गई है। चिकित्सक बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की थर्मल स्क्रीनिग कर रहे हैं। वहीं मजिस्ट्रेट की देखरेख में संदिग्ध मरीजों को क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती कराया जा रहा है। आपदा के दौरान चिकित्सकों व मजिस्ट्रेट की सीमा पर उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए जिला प्रशासन अलर्ट है। जिले की सीमाओं पर बाहर से आने वालों की थर्मल स्क्रीनिग में लगे मजिस्ट्रेट व चिकित्सकों की उपस्थिति रोजाना जांची जा रही है। इसके लिए कलेक्ट्रेट में बाकायदा कर्मचारी की ड्यूटी लगाई गई है। कर्मचारी अधिकारियों व चिकित्सकों के मोबाइल पर फोन कर उनके आने-जाने का समय समेत पूरी डिटेल ले रहे हैं। इसके अलावा आला अधिकारी समय-समय पर निरीक्षण कर हालात से वाकिफ होते हैं।

अपर जिलाधिकारी ने ड्यूटी से गायब रहने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है।तैनाती के दौरान ही सभी को नियमित ससमय निर्धारित चेक पोस्ट पर पहुंचकर ड्यूटी करने के निर्देश दिए गए थे। कलेक्ट्रेट में कर्मचारी को उपस्थिति जांचने के लिए लगाया गया है। कर्मचारी शिफ्ट बदलने और शुरू होने के दौरान मजिस्ट्रेट के मोबाइल पर फोन कर उनकी लोकेशन पता करते रहते हैं। अपर जिलाधिकारी संजय कुमार ने बताया कि बाहर से आने वालों की निगरानी के लिए जिले की सीमा पर चेकपोस्ट स्थापित किए गए हैं। यहां शिफ्टवार मजिस्ट्रेट व चिकित्सकों की ड्यूटी लगाई गई है। ड्यूटी से गायब रहने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here