एसएसपी आफिस में तैनात सिपाही ने रविवार रात गंगानगर स्थित पनाशे अपार्टमेंट के फ्लैट में खुदकशी कर ली। उसका शिक्षिका पत्नी से विवाद चल रहा था। इसी कारण पत्नी बीस दिन पहले मायके चली गई थी। कमरे से सुसाइड नोट मिला है।

विजय गोंड पुत्र सुखपाल गोंड निवासी ग्राम रावतपाल पांडे तहसील सलेमपुर थाना लार जिला देवरिया 2005 में उत्तर प्रदेश पुलिस में सिपाही पद पर भर्ती हुए थे। वह गंगानगर के पनाशे अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 102 में पत्नी और दो बच्चों के साथ रहते थे। विजय का बड़ा भाई अशोक और पिता सुखपाल भी गंगानगर के एल ब्लाक में रहते हैं। सोमवार को विजय का फोन रिसीव नहीं हुआ तो अशोक उनके फ्लैट पर पहुंचे। फ्लैट अंदर से लॉक था। अशोक ने पुलिस को सूचना दी। सीओ अखिलेश भदौरिया के मुताबिक, फ्लैट का दरवाजा तोड़कर देखा तो विजय का शव फंदे पर लटका था। बेड पर सुसाइड नोट पड़ा था। पुलिस ने शव और सुसाइड नोट को कब्जे में ले लिया। पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिवार के लोगों को सौंप दिया। फोरेंसिक टीम ने भी जांच की। 

खतौली थाने में हुई बेइज्जती के चलते टूट गया था विजय  

2015 में विजय गोंड की शादी खतौली की रहने वाली वंदना से हुई थी। वंदना भी इंटर कॉलेज में शिक्षिका है। उसके दो बच्चे है। पुलिस के मुताबिक, वंदना नहीं चाहती थी कि विजय के पिता सुखराम गोंड उनके फ्लैट पर आएं। इसी बात को लेकर अक्सर दंपती में विवाद रहता था। विवाद इतना बढ़ा कि 20 दिन पहले वंदना दोनों बच्चों को साथ लेकर मायके चली गई। रविवार को समझौते के लिए ससुराल पक्ष ने विजय को खतौली थाने में बुलाया था, जहां पर ससुराल पक्ष के लोगों और विजय में जमकर कहासुनी हुई। ससुरालियों ने पत्नी के सामने ही थाने में विजय की बेइज्जती की। विजय ने पत्नी से वीडियो कॉल पर बच्चों से बात कराने को कहा लेकिन पत्नी ने इन्कार कर दिया। तभी से विजय परेशान था।

शादी की सालगिरह के दिन उठी अर्थी

सिपाही विजय इस तरह अवसाद में आया कि रविवार रात खुदकशी कर ली। स्वजनों ने बतया कि सोमवार को विजय की शादी की सालगिरह थी। उन्होंने कभी सोचा भी नहीं होगा कि शादी की सालगिरह पर ही विजय की अर्थी उठेगी। बताया जा रहा है कि जल्द ही उसका प्रमोशन होने वाला था।

सिपाही का सुसाइड नोट : सिपाही विजय ने अपने पिता सुखराम को संबोधित करते हुए सुसाइड नोट में लिखा है कि पापा मुझे माफ कर देना। मैं अब जा रहा हूं। वंदना से शादी करके शायद मुझसे बड़ी गलती हो गई। दोनों बच्चों का ख्याल रखना। मैंने वही किया जो सही लगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here