थाना क्षेत्र के ढकनी छोर गांव में सोमवार तड़के एक महिला की रहस्यमयी मौत हो गई। मृतका की पहचान चमेलिया देवी (35 वर्ष) के रूप में हुई। इससे इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना के बाद थानाध्यक्ष सुजय विद्यार्थी एसटीएफ के जवानों के साथ गांव पहुंचे। मृतका के स्वजनों और ग्रामीणों से पूरी घटना के बारे में जानकारी ली। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल, नवादा भेज दिया। मृतका की मां समरी देवी ने थाने में लिखित आवेदन देकर जांच की मांग की है।

क्या है घटना

– मृतका के पति सिरदला थाना क्षेत्र के पड़रिया गांव निवासी मुनेश्वर भुइयां ने बताया कि ससुराल (ढकनी छोर गांव) में रविवार की रात सभी लोग साथ में खाना खाकर घर में सो गए थे। सोमवार तड़के करीब 3 बजे अपनी पत्नी को उठाया तो व कुछ नहीं बोल रही थी। जिसके बाद शोर मचाया तो दूसरे घर से सास-ससुर आए। कुछ ग्रामीण भी इकट्ठा हो गए। महिला के नहीं उठने पर सभी ने कहा कि मौत हो गई है। स्वजनों का कहना है कि महिला पूरी तरह से स्वस्थ थी, लेकिन अचानक हुई मौत से स्वजन से लेकर ग्रामीण तक काफी चितित है। कहते हैं थानाध्यक्ष

– शुरुआती जांच में महिला की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ पता चलेगा। मामले की जांच की जा रही है।

मदर्स डे की रात छीन गया मां का आंचल

मृतका चेमेलिया देवी अपने पीछे चार बच्चों को छोड़ गई। मदर्स डे की रात मां का साया छीन जाने से उनके बच्चों की हालत खराब है। बच्चे अपनी मां के शव से लिपटकर रो-रो कर कह रहे थे कि मां उठ जाओ, सुबह हो गई है, खाना बनाओ, खाना है। बच्चों की यह दशा देख वहां मौजदू सभी की आंखे नम हो जा रही थी। मृतका का बड़ा पुत्र 10 वर्षीय पप्पू कुमार को इस बात की जानकारी हो गई थी कि उसकी मां अब इस दुनिया में नहीं है ,लेकिन वह अपनी छोटी बहनों को संभाल पाने की हालत में नहीं था। 9 वर्षीय बेटी कंचन ने रो-रो कर बताया कि मां उसे बहुत प्यार करती थी और मेहनत मजदूरी कर दो पैसा कमा कर हम लोगों के लिए सभी जरूरत की चीज ला कर देती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here