कानपुर के राजकीय बाल संरक्षण गृह में कोरोना संक्रमण के दौरान पता चला कि 57 लड़कियों को कोरोना है

शेल्‍टर होम में कोरोना पॉजिटिव पाई गई इन लड़कियों में से 7 नाब‍ालिग गर्भवती भी पाई गई हैं

5 गर्भवती लड़कियां भी कोरोना संक्रमित

दो अन्य गर्भवती लड़कियों का करोना नेगेटिव

कोरोना पॉजिटिव 57 लड़कियां अस्पताल में भर्ती

संवासिनी गृह के मामले में सीएम ने लिया संज्ञान

महिला आयोग की सदस्य पूनम कुमारी ने दी जानकारी

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क
कानपुर।राज्य सरकार द्वारा संचालित बालिका संरक्षण गृह कानपुर में रहने वाली 7 लड़कियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अब इस संस्था को कोबिट क्लस्टर कहां जा रहा है। इन 57 लड़कियों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।संस्थान की जिन लड़कियों तथा स्टाफ में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं उन्हें कोरेंटिन किया गया है। पूरी बिल्डिंग को सील कर दिया गया है।रविवार को इस मामले ने उस समय तूल पकड़ा जब मीडिया ने दावा किया कि इनमें से 7 लड़कियां गर्भवती हैं। जिसके बाद बाल संरक्षण गृह पर सवाल उठने लगे,देर रात जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि गर्भवती पाई गई लड़कियां में 5 लड़कियां कोरोनावायरस से संक्रमित भी पाई गई हैं। दो अन्य की कोविड 19 की जांच रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई है। डीएम ने बताया कि जो सात लड़किया गर्भवती है। इन लड़कियों को आगरा ,एटा, कन्नौज, फिरोजाबाद ,कानपुर बाल कल्याण समिति द्वारा कानपुर रेफर किया गया था ।उन्होंने बताया कि गर्भवती दो अन्य लड़कियां कोरोना संक्रमित नहीं पाई गई हैं ।

मुख्यमंत्री ने इसकी जानकारी प्राप्त की

महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर ने मुख्यमंत्री को संवासिनी गृह मामले की जानकारी दी है उन्होंने सीएम को बताया कि राजकीय की 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव पाई गई 7 लड़कियां गर्भवती हैं जिनमें से 5 की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई दो लड़कियां कोरोना नेगेटिव हैं। पहले सभी 57 लड़कियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here