Home राज्य उत्तर-प्रदेश छठ पूजा की तैयारी,बाजारों से लेकर नदी के तट, तक रौनक नजर...

छठ पूजा की तैयारी,बाजारों से लेकर नदी के तट, तक रौनक नजर आयी

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क
शुभम कि रिपोर्ट
शहाबगज,चंदौली। शुक्रवार को ब्लाक से बाजारों तक, छठ लोकआस्था का महापर्व ,एक ही दिन के होने के कारण, छठव्रतियों के भीड़ से बाजारों में गुलजार दिख रहा था। बाजारों में नारियल,मूली,ईख, चुकन्दर,हल्दी,सहित मिट्टी से बनने वाली सामानों, की खरीदारी के लिए। छठव्रतियों की भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान खरीदारी करने आई, छठव्रती मिहिला कुसुम देवी ने बताया कि वह दस वर्ष से छठ पूजा करती आ रही है ।छठ में प्राकृतिक व मिट्टी से बनी वस्तुओं का बहुत अच्छा महत्व है। छठ पूजा की विधि विधानों का भी बड़ा महत्व है।इस दौरान फल विक्रेता भरोस मोदनवाल ने बताया कि ,साल भर इंतजार करने के बाद छठी मईया की कृपा से अच्छी आमदनी भी हो जाती है। जिससे हमारा भी छठ पर्व संपन्न होता है। लोकआस्था के इस पर्व में निश्चित रूप से ,प्राकृतिक व मानवीय मूल्यों की प्राथमिकता साफ झलकती है। एक तरह से दौर भाग भड़ी जिंदगी प्रेम का संचार करने का सरल माध्यम छठ पूजा ही है। छठव्रतियों ने छठ पूजा में प्रयोग हो ने वाले छोटे छोटे सामग्री लेने के लिए।सुबह से ही बाजार में निकल पड़े। और इस तरह बाजारों में रौनक भी नजर आने लगी । दिनभर मिहलाओ ने व्रत रखा। शाम को छठ मैया की पूजा की ,चूल्हे पर गुड की खीर और पूड़ी बनाई।छठ मईया को अर्पित करने के बाद प्रसाद के रूप में ग्रहण किया। इसी के साथ 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू हो गया था। वहीं देर शाम होते ही ,छठव्रती महिलाएं छठपुजा के महापर्व शुक्रवार पर छठ मैया के गीत ,कांच ही बांस के बहंगिया,बहंगी लचकत जाए, पहिले पहिल बानी कयिल हे छठ मैया , हे छठ मैया दयी द आशीष अपार आदि गीत गाते हुए । कर्मनाशा नदी के घाटों के पूजा स्थल पर , छ्ठ व्रती महिलाए निकल पड़ी।जानकारी के मुताबिक छठव्रति महिलाओं ने,बताया कि। छठपुजा एक ऐसा त्योहार है ,जो पूरे बिहार ,उत्तर प्रदेश और झारखंड जैसे राज्यों में पूरे जोश और उत्साह के साथ मनाया जाता है। आज के दिन छठव्रती महिलाए। शाम के समय डूबते हुए,सूर्य को अर्घ्य देकर छठ मईया से संतान की ,लंबी आयु और सुख समृद्धि की कामना करती है । हालांकि गुरुवार को वैश्विक महामारी को देखते हुए। क्षेत्राधिकारी प्रीति त्रिपाठी के अनुमति अनुसार साहबगंज में स्थित कर्मनाशा नदी के तट पर , छ्ठ पूजा के दौरान लोगों कि भीड़ एकत्रित होने नहीं दिया जा रहा था ।

Krishna chand Srivastavahttp://Dainik%20drijan%20.com
मै के सी श्रीवास्तव एड0 पिछले 20 ,22 वर्षो से प्रिन्ट मिडीया के क्षेत्र में विभिन्न्न जिला ब्‍यूरो व मान्‍यता प्राप्‍त जिला संवाददाता के रूप में कार्य करता आ रहा हॅू आज भी जौनपुर से प्रकाशित हिन्‍दी दैनिक तरूण मित्र में चंदौली जिले के ब्‍यूरो चीफ के रूप में कार्यरत हूॅा । साथ ही साथ इसके अब आप के बीच सोशल साइड पर दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क के माध्यम से भी आप की खबरों को नित नया आयाम देने के लिए तत्पर हूॅ । जिले से ब्‍यूरो चीफ व संवााददाताओं की आवश्‍यकता हैा खबरों व विज्ञापन को हमारे वाट्सअप न0 9935932017 पर भेज सकते है।हर जगह की खबरो के लिए वहा से सम्ब‍धित रिर्पोटर ही जिम्‍मेदार होंगे , अगर आप पत्रकारिता से जुडना चाहते है तो भी हमसे सम्‍पर्क करें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

जिलाधिकारी द्वारा की गई नीति आयोग की कार्य योजना की समीक्षा

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क चंदौली ब्यूरो। जिलाधिकारी संजीव सिंह द्वारा नीति आयोग की कार्ययोजना की समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में नीति आयोग भारत सरकार के...

शिक्षक 16 जनवरी को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालयों पर देंगे धरना

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क चंदौली ब्यूरो।  शिक्षक संघ के केंद्रीय नेतृत्व के आह्वान पर प्रदेश भर के शिक्षक शनिवार के दिन 16 जनवरी को...

सड़क के किनारे नाली निर्माण के खुदाई से राहगीरों को करना पड़ रहा परेशानी का सामना

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क सैदूपुर,चंदौली। सैदूपुर से लेहरा मार्ग पर नाली निर्माण के लिए लगभग महिनों पुर्व खुदाई कर के छोड़ दिया गया है,...

नई दिल्ली द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय मगही चौपाल-१६ सम्पन

दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क नई दिल्ली । विश्व मगही परिषद् अंतरराष्ट्रीय मगही चौपाल-१६,विश्व मगही परिषद् नई दिल्ली के तरफ से सोलहवां वेबिनार जेकरा...

ढाई दर्जन कवियों ने कोविड के बाद एक साथ अपनी रचनाओं से उकेरा

डाॅ एस के सिंह दैनिक सृजन नेशनल न्यूज नेटवर्क लखनऊ।कबि स्मृति शेष  चंद शेखर सिंह जी की स्मृति में राष्ट्रीय कवि संगम लखनऊ एवं अवध...